Emotional Relationship- Top 3 reasons of family separation

365
0
Share:
emotional relationship

Emotional Relationship, दर्द भरी कहानी या एक परिवार का अलग होना किसी को भी भावुक कर सकता हैं, क्योकि हर व्यक्ति एक सामाजिक प्राणी हैं, आमतौर पर एक आम व्यक्ति किसी को विवस देख कर अपने आपको भावुक होने से नहीं रोक सकता, अगर हम बात करे फिल्मो की तो देखा गया हैं की भावुक सीन को देखकर 85% व्यक्ति अपने आपको भावुक होने से नहीं रोक पाते, तो फिर ऐसी क्या वजह हे जिससे की आजकल के परिवार अपनी मानवता खोते जा रहे हैं या वे कौन लोग हैं जो ऐसा कर रहे हैं?

आखिर क्या वजह होती हैं एक परिवार को टूटने की? क्या उस परिवार को बचाया जा सकता हैं, अगर हा तो कैसे?

Emotional Relationship का मतलब healthy relationship

परिस्थितया इतनी मुश्किल हैं, की आज की जिंदगी में उन्हें संभालना बहोत ही मुश्किल हो गया हैं! एक बच्चे को चाहत हैं अपने परिवार की, और परिवार को क्या चाहत हैं ये सब जानते हैं, उस बच्चे बारे में न तो सोचने का टाइम माँ के पास हैं और न बाप के पास, दोनों सिर्फ अपनी ही ख़ुशी में खुश हैं!

इससे तो लगता हैं की परिवार को टूटने की वजह जानना ज्यादा मुश्किल नहीं, क्योकि दोनों ही किसी तीसरे के साथ अपना परिवार और अपनी ख़ुशी देखते हैं! फिर उन्हें इस बेचारे बच्चे में क्यों interest होगा!

Detective Agencies

इस Private Detective के profession में तक़रीबन सभी तरह में मामलो को face करना पड़ता हैं, इसमें भावुकता की कोई जगह नहीं, अगर परिवार के अलग होने की वजह जाने तो, हमें सिर्फ ये तीन वजह ही दिखती हैं !

1-  किसी तीसरे का जिंदगी में आना, और उसके साथ परिवार बनाने की ख्वाइस

2-  पारिवारिक कलह और Financially weak

3- लड़के या लड़की के माँ बाप का बिना वजह interfere

  • किसी तीसरे का जिंदगी में आना, और उसके साथ परिवार बनाने की ख्वाइस

किसी तीसरे का जिंदगी में आना, और उसके साथ परिवार बनाने की ख्वाइस

किसी तीसरे का अकस्मात जिंदगी में आजाना आजकल परिवार को टूटने की एक मुख्य वजह सी हैं, आजकल इस तरह के relation एक fashion हैं, उचे घरानो के लोगो का इस तरह के माहौल को अपनी जिंदगी में पूरी तरह से ढाल चुके हैं, अगर सूत्रों की माने तो इस तरह के परिवार में extramarital relations का न होना एक ख़राब बात हैं, ऐसा माना जाता हैं की जो लोग extramarital relation के बिना होते हैं उन्हें उनकी society में बहोत निचे स्तर से देखा जाता हैं याकि की, वह outdated model की तरह हैं और उनकी सोसाइटी में बैठने तक काबिल नहीं हैं!

True Love is the exact meaning of emotional relationship

Healthy emotional relationshipऐसी सोच वाले लोग कौन हैं, क्या western culture  को पूरी तरह से अपना चुके हैं, या फिर ये लोग सिर्फ मौज मस्ती तक ही सिमित हैं! परिवार ऐसे लोगो के लिए कोई मायने नहीं रखता, आमतौर पर किसी के साथ relation होना इन दो बातों पर निर्भर करता हैं,

पहली की आप के लिए जिंदगी के कोई मायने नहीं, आप एक अयाश किस्म के व्यक्ति हैं और sex करना आपकी कमजोरी हैं, ऐसे व्यक्ति का कोई ईमान नहीं होता, समाज या परिवार उनके लिए कोई मायने नहीं रखता! दोखा देना उनकी फितरत का एक हिस्सा भर हैं! ऐसे व्यक्ति के साथ परिवार की इच्छा रखना एक बेबकूफी से ज्यादा और कुछ नहीं!

दूसरी की आप एक relation को जबरदस्ती घसीटे जा रहे हों, आप जबरन किसी relation में बढे गए और मजुबरन इसमें रहना आपकी मज़बूरी से ज्यादा और कुछ नहीं, बार बार आप अपने आप को कोसते हों, और वर्तमान relation से किसी तरह से भी छुटकारा पाना चाहते हों चाहे उसका मूल्य आपके बच्चो को ही चुकाना पड़े!

ऐसे relation किसी भी compromising situation में हो सकते हैं, अर्थात एक परिवार के होते हुए, दूसरा परिवारका होना कोई बड़ी बात नहीं क्योकि ऐसे व्यक्ति सामाजिक तो हैं पर मजबूर भी हैं! ऐसे व्यक्ति इन दोनों परिवार के साथ जब तक निर्वाह करते हैं जब तक की सम्भब हो!

इस तरह के लोगो से रिश्ते की उम्मीद की जा सकती हैं क्योकि अगर एक बार ऐसे लो मन से relation को अपना लेते हैं तो फिर पूरी जिंदगी पर साथ निभाते हैं! इसमें कोई दो राय नहीं की हर व्यक्ति को उसकी इच्छा के अनुसार सबकुछ मिले, बस कोसिस आपको करनी हैं उसको अपने बनाने की!

तीसरी परिस्थिति कुछ अजीब सी हैं, इस में एक व्यक्ति अपने परिवार को पूरी तरह से समर्पित हैं परन्तु परिस्थितया कब विपरीत हो जाती जाती हैं कुछ पता नहीं! आजकल extramarital affair के 100 में से 80 मामले इसी के कारण सामने आ रहे हैं! ऐसा क्या होता हैं, एक भरे पूरा परिवार का व्यक्ति, अचानक दूसरे परिवार की इच्छा करने लगता हैं! और ज्यादातर रिश्ते टूटने के मामले इसी को चलते ही हो रहे हैं!

Emotionally attachment देखने में तो यह शब्द आम सा लगता हैं, परतु ज्यादातर रिस्ते इसी शब्द पर टिके होते हैं, जैसे की एक परिवार का एक दूसरे का care कारण एक emotional attachment ही हैं जब एक रिस्ता इसे खो देता हैं, तो उस परिवार का पूरी तरह से नस्ट हो जाना तय हैं, अगर वह परिवार एक साथ रहा भी तो उसके परिवार वाली कोई बात नहीं होगी!

एक रिश्ते को बचने को सिर्फ एक यही रास्ता हैं की emotions को किसी तरह बनाये रखा जाये! एक व्यक्ति दूसरे परिवार की जभी इच्छा करता हैं जब उसके emotions किस दूसरे के साथ हों, अब यह depend करता हैं की किसके साथ healthy emotional relationship हैं,

emotional relationship परिवार को बनाये भी रखती हैं और उसे टूटने पर भी मजबूर कर देती हैं, इस दुनिया में ऐसा कोई नहीं की जो emotions के ऊपर जाकर decision ले ले, Love शब्द भी emotion की पहली सीडी हैं और अंतिम भी यही है, अगर आपके परिवार का कोई member emotionally किसी के emotions में बहकर चला जाता हैं तो उसे या तो emotions से बचाया जा सकता हैं या फिर उसे भूल जाना ही समझदारी हैं!

Emotional Relationship and Spy Agencies work

Emotions  का जाल इतना पेचीदा हैं की, जासूसी में भी इसे समफलता पूर्वक अम्ल में लाया जा चूका हैं,

Emotional Relationship का मतलब healthy relationship ये इस पर निर्भर करता हैं की आपके साथ हैं या किसी दूसरे के साथ!

मरते दम तक Healthy Emotional Relationship की ख़त्म नहीं क्या जा सकता, परन्तु इसे बदला जरूर जा सकता हैं, क्योकि ये relationship natural होती हैं!

ये Emotional relationship कैसे होती हैं?

किसी व्यक्ति को कठिनतम परिस्थिति में असहाये देखकर, ये एक दम अपना काम करने लगती हैं और इस बात में निर्भर करती हैं की सामने वाला, कितना सच्चा और जरुरतबंद हैं, अगर परिस्थिया अनुकूल रहती हैं तो उनमे बाह जाना स्वाभाविक हैं, ये बिलकुल ऐसे ही हे जैसे किसी लाइलाज बीमारी का अकस्मात लग जाना! जिसका इलाज इस दुनिया में किसी के पास नहीं हैं! अगर आप इस संधर्ब में और कुछ जानना चाह्ते हे तो Emotional Counseling and roll of Detective Agencies जरूर पढ़े

पारिवारिक कलह और Financially weakness

पारिवारिक कलह और Financially weakness, एक परिवार की ख़ुशी इस बात पर भी निर्भर करती हैं वह भरा पूरा हो, यानि जरुरत के मुताबिक पैसा हो! हर व्यक्ति के अपने सपने होते हैं, और पूरा करने के लिए भरकम प्रयास करता हैं, लेकिन पैसे का अभाव उसके सपने को चकना चूर कर देता हैं और देखते ही देखते परिस्थितिया बदलने लगती हैं, रोजमर्रा की कलह परिवार को टूटने पर मजबूर कर देती हैं!

परिवार की finance condition जानने के लिए Personal Detective Agency where is to find Best Detective? पढ़े!

लड़के या लड़की के माँ बाप का बिना वजह interfere

लड़के या लड़की के माँ बाप का बिना वजह जिंदगी में interfere करना भी परिवार को टूटने की एक बड़ी वजह हैं, लड़के और लड़की दोनों के माँ और बाप को समझाना चाहिए की उनका बच्चा नई जिंदगी में कदम रख रहा हैं, उसे हर कदम पर आपकी सलाह की जरुरत पड़ेगी,, जिससे की उनका मार्गदर्शन हो ! परन्तु इसके विपरीत वह उसको गलत निर्णय लेने की सलाह से भी नहीं चूकते, और जानबूझकर खाई में कूदने पर मजबूर कर देते हैं,इसमें अलग अलग हस्तक्षेप हैं जिसकी को हम अगले संस्करण में चर्चा करेंगे!

Blogger Opinion

आप निस्संदेह अपने परिवार को टूटने से बच्चा सकते हैं, बस ऊपर दिए गए पहलुओं से सचेत रहे, क्योकि आपके परिवार ही आपका सर्वोपरि कर्त्तव्य हैं और आपके स्नेह और प्रेम का हिस्सा भी! उसे सिर्फ आपकी और आपके प्रेम की जरुरत हैं!

भविस्य में ऐसा कोई कोई कदम न उठाय जिससे की आपको दोहरी जिंदगी जीने पर मजबूर होना पड़े| अगर ऐसा कदम आप उठा चुके हैं तो ये आपकी जिम्मेदारी बनती हैं की जब तक मुमकिन हो दोनों परिवारों को भरपूर स्नेह और प्रेम दे और दोनों से ही अपने इस फैसले की बात करे! बाकि उस उपरवाले पर छोड़ दे! शायद आपको ऐसा संसार मिल जाये जिसकी अपने कल्पना की थी!

परन्तु ऐसी कल्पना करना भी मुश्किल हैं क्योकि ऐसा सिर्फ इतिहास या कितबों में ही अच्छा लगता हैं, असल जिंदगी में नहीं!

में आशा करता हूँ, आप मेरे विचारो से सहमत होंगे, और अपनी राय मेरे comments box में देंगे!

Also read:-  Sex during pregnancy safe or not

 

धन्यवाद

 

 

Share:
Optimization WordPress Plugins & Solutions by W3 EDGE